ज्वैलरों की लम्बी हड़ताल होने के बावजूद भी सोने की स्मगलिंग में कोई कमी नहीं आई, इसका मतलब के बंद शटरों के पीछे भी काम चल रहा था

इंदिरा गांधी हवाईअड्डे पर तस्करी के सोने के साथ व्यक्ति गिरफ्तार
नई दिल्ली : इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे (आईजीआईए) पर एक व्यक्ति को कथित तौर पर 1.56 करोड़ रुपये मूल्य के सोने की तस्करी करने का प्रयास करते हुए गिरफ्तार कर लिया गया। आईजीआईए के अतिरिक्त आयुक्त, सीमाशुल्क, विनायक आजाद ने बताया कि सीमाशुल्क अधिकारी ने बहरीन से यहां आने वाले आरोपी को रोक कर उसकी तलाशी ली, तो उसके पास से 5.5 किलो सोना बरामद हुआ। उन्होंने बताया कि सोना 250 ग्राम वाली छड़ों के रूप में था। आरोपी केरल का निवासी है, उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। जब्त सोने की कीमत करीब 1.56 करोड़ रुपये है।

दिल्ली आईजीआई एयरपोर्ट सोने की स्मगलिंग बढ़ी 8.5 किलो सोना बरामद
नई दिल्ली : तकरीबन एक महीने के शान्ति के बाद सिंगापुर और दुबई से दिल्ली के लिए फिर से सोने की स्मगलिंग शुरू हो गई है। आईजीआई एयरपोर्ट पर कस्टम अधिकारियों ने दो लोगों को गिफ्तार किया है इनमें से एक शख्श एयर इंडिया सैट्स का एंप्लॉयी है। यह कंपनी एयर इंडिया सहित 15 एयरलाइंस के लिए ग्राउंड हैंडलिंग का काम करती हैं। दूसरा शख्श केरल का है जो कैरियर है। इनके कब्जे से साढ़े आठ किलो सोना जब्त किया गया है। भारत में पिछले महीने के दौरान सोने की स्मगलिंग का यह सबसे बड़ी बरामदगी बताई गई है। इसके साथ ही कस्टम अधिकारियों को एक बड़े गैंग के बारे में पता चला है, जा कि ग्राउंड हैंडलिंग के लिए नौकरी और असल में सोने की स्मलिंग के लिए कैरियर का काम करते हैं। आईजीआई एयरपोर्ट पर तैनात कस्टम डिपार्टमेंट के एक टॉप अफसर ने बताया कि एयर इंडिया के लिए काम करने वाले इस एंप्लॅायी को पकड़ा गया। यह जेट एयरवेज की सिंगापुर से दिल्ली आने वाली फ्लाइट से आया था। सूचना के आधार पर इसे ग्रीन चैनल पार करते वक्त पकड़ा गया। पासपोर्ट चैक करने के बाद पता लगा है कि इससे पहले भी यह तीन बार सिंगापुर और दुबई की ट्रिप लगा चुका है। हालांकि उस दौरान इसने गोल्ड की स्मलिंग की या नहीं, यह कह पाना अभी मुश्किल है। लेकिन अब इसकी पूरी हिस्ट्री की जांच की जा रही है कि सिंगापुर जाने और आने के लिए इसकी टिकट किसने बुक कराई और और यह किस-किस से मिला। पिछले साल भी सैट्स के कुछ एंप्लॉई को गोल्ड स्मगलिंग में पकड़ा गया था। कस्टम अधिकारियों को लगता है कि यह पूरा गैंग है, जो ग्राउंड हैंडलिंग के काम के माध्यम से यह बड़े ही ऑर्गनाइज तरीके से सोने और मार्केट डिमांड के अनुरूप अन्य समान के स्मगलिंग में लगा है। ये लोग किसके लिए काम करते है, अभी इस बारे में भी पता लगाया जा रहा है। वैसे कस्टम को काफी अच्छे क्लू मिले हैं। इसकी मदद से यह भी जल्दी पता लग जाएगा कि ये लोग किसके लिए काम कर रहे हैं। इसके अलावा केरल में रहने वाले एक व्यक्ति को पांच किलो सोने की स्मगलिंग करने के आरोप में पकड़ा गया है। यह बहरीन से दिल्ली आया था। इसने सोने की बड़ी-बड़ी बार बनवाकर इमरजेंसी लाइट में बैट्री की जगह सेट किया हुआ था। शक के आधार पर इससे पूछताछ की गई। पहले इसने कुछ नहीं कबूला, बाद में जब इसकी इमरजेंसी लाइट को खोला गया तो उसमें सोना निकला।

डीआरआई ने पकड़ा करोड़ों का गांजा
डीआरआई की टीम को गांजा तस्करों के खिलाफ बड़ी सफलता मिली है। टीम ने बिहार के मुजफ्फरपुर के ब्रह्मपुरा थाना क्षेत्र स्थित चांदनी चौक के पास से चार सौ किलो गांजा के साथ दो तस्करों को गिरफ्तार किया है। गांजा को कोयला लदे ट्रक पर 25 पेटियों में छिपाकर ले जाया जा रहा था। बरामद किये गये गांजे की कीमत बाजार में 24 करोड़ रुपए के करीब है। गुवाहाटी से कोयला लदा ट्रक मेरठ जा रहा था। गिरफ्तार किया गया ट्रक ड्राइवर और खलासी गांजे की तस्करी में 40 हजार रुपये प्रति खेप की कमीशन पर काम करते थे। डीआरआई के मुताबिक पिछले तीन सालों से गांजे की तस्करी में यह गिरोह सक्रिय है। पूछताछ से पता चला है कि गांजे की तस्करी में मोतिहारी जिले के चकिया का ट्रांसपोर्टर भी शामिल है। गांजे की खेप मोतिहारी के चकिया में उतारी जानी थी जिसके बाद नेपाल के रास्ते खाड़ी सहित दूसरे देशों में गांजे की खेप को भेजा जाता। पकड़े गया युवक त्रिापुरा और पश्चिम बंगाल के रहने वाले हैं।

मुंबई कस्टम विभाग ने जब्त किया 50 करोड़ का तस्करी का माल
मुंबई : मुंबई कस्टम विभाग ने साल भर में 50 करोड़ से भी ज्यादा का तस्करी का माल जब्त कर कई तस्कर गिरोहों का भंडाफोड़ किया है। कस्टम विभाग ने अपनी सालभर की उपलब्धि और तस्करी के अनोखे तरीकों को सार्वजनिक किया। मुंबई कस्टम के प्रिंसिपल कमिश्नर ए.के. ज्योतिषी ने बताया कि जिन ब्रांडेड विदेशी घडि़यों की कीमत 15 से 20,000 रुपये है। तस्करों ने उन्हें प्लास्टिक की नकली घड़ी बताकर मात्रा 50 से 100 रुपये कीमत बताई थी। इसी तरह इन जूतों और टायरों को भी नकली और चीनी माल बताया जबकि वो बिल्कुल ब्रांडेड और महंगे थे। तस्करों की कोशिश बिना कस्टम डूटी दिए इन्हें निकाल ले जाने की थी। कस्टम ने साल भर में 1 करोड़ 86 लाख की सिगरेट भी जब्त की है, जिन्हें तस्कर पेंसिल के बक्से में भरकर लाए थे। इसी तरह बटन और धागा के डिब्बों में मोबाइल की एसेसरीज छिपा कर रखी गई थी। कस्टम विभाग ने माल तो करोड़ों का जब्त किया है। विभाग का कहना है कि ज्यादातर बरामदगी गोदामों से हुई है और उन्हें लेने कोई आगे नहीं आया इसलिए हम असली मलिक तक नहीं पहंुच पाए।

आईजीआई एयरपोर्ट पर 72 लाख का सोना बरामद
नई दिल्ली : इंदिरा गांधी अंतराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर कस्टम अधिकारियों ने सोने की तस्करी में तस्कर को गिरफ्तार किया है। वह दुबई से दिल्ली के रास्ते मुंबई आया था। उसके पास से करीब ढ़ाई किलो सोना बरामद किया गया है। इसकी कीमत 72 लाख रूपये आंकी गई है। आरोपी ने सोना छुपाने के लिए विशेष तौर पर बेल्ट बना रखा था। कस्टम अधिकारी मामले की जांच में जुटे हैं। आईजीआई एयरपोर्ट के कस्टम कमिश्नर संजय मंगल ने बताया कि अधिकारियों को पता चला था कि एयर इंडिया की विमान संख्या-864 से एक एक सोना तस्कर मुंबई से दिल्ली आने वाला है। 13 अप्रैल को फ्लाइट से उतरने के बाद टर्मिनल-थ्री पर संदिग्ध तस्कर को दबोच लिया गया। उसके हैंड बैगेज की जांच की तो पता चला कि उसने सोने की टिकिया छुपा रखी है। तलाशी लेने पर बैगेज से काले रंग की बेल्ट में छुपाकर रखा 2468.44 ग्राम सोना बरामद हुआ। इसके बाद सोना जब्त कर आरोपी तस्कर को गिरफ्तार कर लिया गया। तफ्तीश में पता चला कि वह दुबई से एयर इंडिया की फ्लाइट से पहले मुंबई आया। इसके बाद उसी फ्लाइट से वह दिल्ली पहुंचा था।

गोल्ड ज्वैलरी एक्सपोटर्स का मिलेगी सहूलियत
नई दिल्ली- सरकार निर्यात को बढ़ावा देने के इरादे से आभूषण निर्यातकों को छोटे मूल्य में शुल्क मुक्त सोना उपलब्ध कराने समेत कुछ अन्य प्रोत्साहनों पर विचार कर रही हैै। सूत्रों ने बताया कि वाणिज्य सचिव रीता तेवतिया की अध्यक्षता में अंतर-मंत्रालयी समिति की बैठक में इन उपायों पर चर्चा की गई। बैठक में इसके अलावा निर्यातकों को रिप्लेनिश्मेन्ट स्कीम के तहत निर्यातकों को जरूरत पडने पर शुल्क मुक्त सोने की आपूर्ति जैसे कदमों पर भी चर्चा की गई। स्वर्ण आभूषण निर्यातकों के लिए क्षेत्रा में कारोबार सुगमता के लिए कागजी काम कम किया जा सकता है। यह प्रस्ताव किया गया हैकि निर्यातकों को प्रोत्साहन के दावे के इरादे से राष्ट्रीय दर के आधार पर आभूषण के निर्यात की अनुमति दी जा सकती है। हालांकि उन्हें निर्यात के 180 दिन के भीतर वास्तविक मूल्य बताना होगा।

पेट में सोना, एयरपोर्ट से गिरफ्तार
कोलकत्ता: नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर तैनात कस्टम अधिकारियों ने पेट में सोने के बिस्कुट छिपाकर कुआलालंपुर से कोलकता पंहुचे एक बांग्लादेशी को गिफ्तार किया है। उसका नाम मुशीर अहमद है। मुशीर के पेट में 11 सोने के बिस्कुट निकले हे। एक-एक बिस्कुट का वजन 100 ग्राम है। इस तस्कर ने सोने के बिस्कुट अन्दर छिपाकर हवाई अड्डे पर तैनात कस्टम अधिकारियों को धोखा देने की कोशिश। मुशीर एक विमान से कुआलालंपुर होते हुए कोलकता पहुंचा था।

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics