कराेड़ों की जीएसटी चाेरी करने वाली जयपुर की सीए गिरफ्तार, जेल भेजा

जोधपुर. परिचित, अनजान या साथी कर्मचारियाें के पैन कार्ड, आधार और अन्य दस्तावेजाें से फर्जी फर्में बनाकर डमी बिलिंग करने और करोड़ों रु. की जीएसटी चोरी के मामले में जयपुर की सीए परिधि जैन काे जोधपुर स्टेट टैक्स डिपार्टमेंट ने गिरफ्तार कर लिया। विभाग ने उन्हें कोर्ट में पेश किया, जहां से जेल भेज दी गई।

90 कराेड़ की बाेगस बिलिंग

जीएसटी लागू हाेने के साथ ही मिली शक्तियों का जाेधपुर में पहली बार प्रयोग करते हुए विभाग ने यह कार्रवाई की है। परिधि ने जाेधपुर के शंकर नगर निवासी सीए गौरव माहेश्वरी के साथ मिलकर करीब 26 फर्जी फर्म बनाई थी और इनमें करीब 90 कराेड़ की बाेगस बिलिंग कर 15-20 करोड़ रु. की जीएसटी चोरी की थी। एक खाते से दूसरे खाते में लाखों की नकदी जमा कराने में भी परिधि की भूमिका सामने आई है। अब गौरव को प्रोडक्शन वारंट पर लेने की तैयारी है।

खुद हड़प लेते थे जीएसटी की राशि
विभागीय सूत्रों के अनुसार जीएसटी फ्रॉड करने वाले इस गिरोह में गौरव के साथ परिधि की भी अहम भूमिका थी। जयपुर की कई फर्मों के लिए जीएसटी रिटर्न भरने या टैक्स जमा कराने का काम करने की आड़ में इस गिरोह ने उन असली फर्मों से तो रुपए लिए, लेकिन सरकारी खाते में जमा कराने की बजाय उन फर्म को चालान देकर बकाया जीएसटी को समायोजित कर लेते और वो राशि खुद हड़प लेते थे।

सीए गौरव है गिरोह का मास्टरमाइंड
इस गिरोह के मास्टरमाइंड सीए गौरव माहेश्वरी के खिलाफ जाेधपुर के विभिन्न थानों में अब तक 7 मामले दर्ज हो चुके हैं। इसके अलावा जयपुर के वैशाली नगर थाने में भी परिधि और गौरव के खिलाफ केस दर्ज कराने के लिए पीड़ित थानाें के चक्कर लगा रहे हैं। नागौर जिले में भी इस गिरोह के खिलाफ दो पीड़ित कोर्ट में इस्तगासा पेश कर चुके हैं। दोनों जिस किसी के दस्तावेज हाथ लगते उसी के नाम से फर्जी फर्म बना लेते थे।

 

सौजन्य से: दैनिक भास्कर

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics