7 ख़ुफ़िया एजेंसियां लगाएंगी कस्टम चोरी पर लगाम

नई दिल्ली :  सरकार ने काले धन के लेनदेन व सीमा शुल्क धोखाधड़ी पर लगाम के लिए विदेशों में सात खुफिया इकाइयां स्थापित करने का प्रस्ताव किया है। इनमें से दो इकाइयां चीन में होंगी। सात सीमा शुल्क विदेशी खुफिया नेटवर्क (कॉइन) का प्रस्ताव विदेश मंत्रालय के पास लंबित है।
इनमें से तीन कॉइन कोलंबो (श्रीलंका), ढाका (बांग्लादेश) तथा बैंकॉक (थाइलैंड) में स्थापित की जानी हैं। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि इन इकाइयों को शुरू करने का स्पष्ट मकसद जारी भारतीय मुद्रा पर लगाम लगाना है। सूत्रों ने बताया कि ऐसी दो खुफिया या जासूसी इकाइयां बीजिंग व ग्वांगझाउ में शुरू करने का प्रस्ताव है, क्योंकि भारत व चीन के बीच व्यापार काफी तेजी से बढ़ा है।
इसके बीच कम मूल्यांकन व डंपिंग रोधी शुल्क के मामले भी सामने आए हैं। राजस्व खुफिया निदेशालय (डीआरआई) सीमा शुल्क धोखाधड़ी व तस्करी पर अंकुश लगाने वाली प्रमुख एजेंसी है। डीआरआई ने दो कॉइन ब्रासिलिया (ब्राजील) तथा प्रीटोरिया (साउथ अफ्रीका) में भी स्थापित करने का प्रस्ताव किया है। सूत्रों ने बताया कि इन दो इकाइयों को स्थापित करने का फैसला इस्बा (भारत, ब्राजील व साउथ अफ्रीका) ढांचे का महत्व बढ़ने की वजह से किया गया है।
 
स्रोत : इकनॉमिक टाइम्स 

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics