30 विदेशी बैंकों को 600 करोड़ का सर्विस टैक्स नोटिस

नई दिल्ली : 2009 के बाद से लंबित भारत में सक्रिय 30 विदेशी बैंकों से केन्द्रीय उत्पाद शुल्क एवं सेवा कर विभाग लगभग 600 करोड़ रुपये वसूलने की तयारी में है। विभाग एक सप्ताह के भीतर सभी बैंको को कर नोटिस देने की तयारी में है।
वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इस सप्ताह जोरदार शब्दों में सभी को संदेश दिया था के “भारत कोई टैक्स स्वर्ग नहीं है”।
“सेवा कर का भुगतान भारत में घरेलू शाखाओं के साथ इन विदेशी बैंकों के प्रधान कार्यालयों द्वारा किए गए व्यय पर है। एक बैंक पर लगभग 20-30 करोड़ रुपए का टैक्स है,” एक वरिष्ठ केन्द्रीय उत्पाद शुल्क ने कहा।
स्रोत : newsportalindia

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics