सेंट्रल जीएसटी दिल्ली वेस्ट जोन एंटीविजन ने पकड़ी करोड़ो की फर्जी बिल

Image result for gstअभी -अभी सूत्रों के हवाले से खबर आई है की हाई कोर्ट ने अग्रिम जमानत खारिज कर दी है। कोर्ट ने एन.बी.डब्लू जारी कर दिया है।

10 करोड़ जमा तथा मालिक फरार अग्रिम जमानत खारिज
धर्मवीर आनंद
नई दिल्ली : एक नामी केबल बनाने वाली कंपनी जो हर बड़ी आॅटोमोबाइल कंपनियों को केबल सप्लाई करती है यह 2000 करोड़ की कंपनी बताई जाती है। फोर्ब्स इंडिया के मार्च 2019 संस्करण में यह कंपनी इस साल का आइकॉन था। इस कंपनी का केबल बाजार में 70 प्रतिशत हिस्सेदारी बताई जा रही है। अफसरो द्वारा मोड आॅफ स्पेंडरी जो बताई जा रही है कि वह अपनी केबल को मीटरों मे बेचते थे और उसके कच्चे माल की खरीददारी किलोग्राम मे होती थी।
उन्होने इस बात का दुरूपयोग किया और एक दूसरी कंपनी से 51 करोड़ो मूल्य के जाली बिल खरीदे। गुप्त सूचना के आधार पर प्रिंसिपल कमिश्नर  ने ज्वाईंट कमिश्नर संजय कुमार रॉय के नेतृत्व में एक टीम बनाई जिसमें कमिश्नर आदित्य यादव सुप्रिडेंट छमिंद्र छाबड़ा तथा इंस्पेक्टर अमर सिंह जो इस
केस में आई.ओ है इस टीम द्वारा कई परिसरो पर छापेमारी की गई और 100 करोड़ के लगभग जीएसटी चोरी पकड़ी गई। गिरफ्तारी के डर से कंपनी के मालिक फरार है उन्होने आग्रिम जमानत की अर्जी न्यायालय में लगाई मगर माननीय न्यायाधीश ने उनकी बेल खारिज कर दी।

 

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics