सुुधर जाओ! भ्रष्ट अफसरों तथा नेताओं आने वाली पीढ़ी देश की बर्बादी के लिए तुम्हें याद करेगी

स्मगलरों आज तुम ना होते तो आज देश कितना खुशहाल होता!Image result for भ्रष्ट अफसरों तथा नेताओं

आज समय आ गया है कि देश कि जनता का खून चूसने वालें लोगों को बेनकाब किया जाए। नीरव मोदी, विजय माल्या, सुब्रतो राय, कार्ति चिंदबरम, इन तरह के कई बड़े नाम है जिन्होनें जनता का धन इस तरह से लूटा जैसे इनके बाप ने कमा रखा था। कभी किसी बहुत बड़े सन्त ने कहा था कि एक दिन ऐसा आएगा की देश की जनता का पैसा बैंकों में होगा लेकिन निकलवा नहीं पायेंगे। क्योंकि बैंकों के भ्रष्ट अफसर तथा नेता पब्लिक का पैसा इन भ्रष्ट लोगों को लोन में दें देंगे। और यह लोग विदेशों में पैसा ले कर भाग जायेंगे। आज की स्थिति को देखा जाए तो बैंकों में भी पैसा रखना सुरक्षित नहीं है। आज कई लोग मोदी जी को गालियां दे रहे है। मैं किसी राजनितिक पार्टी का समर्थन नहीं करता मैं सिर्फ जो अच्छा काम कर रहा है उसका समर्थक हूँ। मैं प्रेक्टिकली देखता हूँ कि देश का भला कौन कर रहा है? आज देश के ज्यादातर अरबपति ड्रॉ बैक के खेल से बने हैं। जनता के पैसों को सरकारी अफसरों की मदद से लूटा जा रहा है देश में पांच लेयर अमीरों की है 1-2 लेयर तक ही सरकार की पकड़ में है।आज समय आ गया है कि देश कि जनता का खून चूसने वालें लोगों को बेनकाब किया जाए। नीरव मोदी, विजय माल्या, सुब्रतो राय, कार्ति चिंदबरम, इन तरह के कई बड़े नाम है जिन्होनें जनता का धन इस तरह से लूटा जैसे इनके बाप ने कमा रखा था। कभी किसी बहुत बड़े सन्त ने कहा था कि एक दिन ऐसा आएगा की देश की जनता का पैसा बैंकों में होगा लेकिन निकलवा नहीं पायेंगे। क्योंकि बैंकों के भ्रष्ट अफसर तथा नेता पब्लिक का पैसा इन भ्रष्ट लोगों को लोन में दें देंगे। और यह लोग विदेशों में पैसा ले कर भाग जायेंगे। आज की स्थिति को देखा जाए तो बैंकों में भी पैसा रखना सुरक्षित नहीं है। आज कई लोग मोदी जी को गालियां दे रहे है। मैं किसी राजनितिक पार्टी का समर्थन नहीं करता मैं सिर्फ जो अच्छा काम कर रहा है उसका समर्थक हूँ। मैं प्रेक्टिकली देखता हूँ कि देश का भला कौन कर रहा है? आज देश के ज्यादातर अरबपति ड्रॉ बैक के खेल से बने हैं। जनता के पैसों को सरकारी अफसरों की मदद से लूटा जा रहा है देश में पांच लेयर अमीरों की है 1-2 लेयर तक ही सरकार की पकड़ में है।मगर 3-4-5 लेयर के छुपे हुए अरबपति ज्यादा तादाद में है। जो पकड़ें तो जाते है मगर सब मैनेज कर लेते है। यह सब स्मगलर है सरकार को यह नहीं पता कि कितने सरकारी अफसर 100 करोड़ की ऊपर की संपत्ति वाले है। मोदी जी क्या-क्या सुधारेंगे। हर बिजनेसमैन पहले करोड़ कमाने तक तो कुछ सरकार की परवाह करते है तथा डरते है। उसके बाद तो हर गलत काम करने को तैयार हो जाते है। आज देश में कुछ भी खाना चाहे, पहनना चाहे या रहना चाहे सब शक के दायरे में आता है। आईएसआई मार्क लगा है पर क्वालिटी घटिया है, ऐगमार्क लगा है मगर खाने में ठीक नहीं। हमारी जांच ऐजेंसियां बिना ईमानदारी से जांच किए आईएसआई  मार्क तथा ऐगमार्क दे देती है। पैसे दो और घर बैठे पुराने नोट बदलवा लों यह है हमारा देश। अगर कोई देश को सुधारना चाहता है तो यह माफिया उस देश सुधारक को खत्म करने की तैयारी शुरू कर देते है। मोदी जी द्वारा नकली कम्पनियां तथा ड्रॉ बैक कम करने से ही आज इन ड्रॉ बैक माफिया की हालत देखने लायक है। यह क्रिमिनल टाईप एक्सपोर्टर और गलत धंधा ढूंढ़ने जा रहे है। आज देश के 3-4-5 लेयर के अमीर परेशान है, और जगह-जगह कहते फिरते है कि मोदी जी ने हमें बरबाद कर दिया इनसे पूछो क्या बरबाद हो गया? करोड़ों रुपए शादियों में लगाते थे आज वह नहीं दिखा पाऐंगे। 1-1 करोड़ की गाड़िया गिफ्ट में देते थे आज वह डर के मारे नहीं दे पा रहे। फाइफ स्टारों में पाटीर्यों के बिल दो नंबर में देते थे आज वह भी बंद हो गए। आज देश के 99 प्रतिशत टैक्स देन वाली जनता को मालूम नहीं की यह स्मगलर और देश के चोर किसका पैसा ले कर भाग गये है, और यहां रहने वाले चोर किसका पैसा खा रहे है। जनता समझती है कि यह पैसा सरकार का है हमारा पैसा तो सुरक्षित है। 60 साल तक हमारे देश को हमारे नेताओं ने लूटा तथा जनता को भ्रम में रखा की सरकार कमाती है और तुम खाते हो। मैं इन भ्रष्ट अफसरों ओर नेताओं को बताना चाहता हूँ कि तुम देश की जनता से कितना पिटना चाहोगे अभी तो देश की जनता तुम्हें सिर्फ गालियां ही देती है।अगर इसी तरह चलता रहेगा तो आने वाली पीढ़ी जो आज इतनी समझदार हो चूक ी है कि  आज 15 साल का बच्चा भी अपना भला-बुरा समझता है। आज की जो किताबे है उसमें क्या सिखाया जा रहा है इन नेताओं को तो पता ही नहीं है। पैसा कमाने की होड़ छोड़कर अपने बच्चों के साथ कभी टाईम दिया हो तो उनको मालूम हो कि हमारे बच्चे क्या सोचते है पैसों की पट्टी इन बच्चों की आंखों में शुरू से बांध दी जाती है यह भी नहीं सोचा जाता की हमारा बच्चा बड़े स्कूलों में पढ़ने के लायक है भी या नहीं बस ठुस दिया जाता है पढ़ने के लिए, वहां क्या सीख रहे है कुछ पता नहीं। आज जो मुझे दिखाई दे रहा है वह दिन दूर नही कि इन भ्रष्ट अफसरों के बच्चे तथा इन भ्रष्ट नेताओं के बच्चे और इन दो नंबरी अमीरों को इनके बच्चे ही इन्हें भला-बुरा कहेंगे, कि तुम को किसने कहा था देश लूटने के लिए ओर हमें भ्रष्ट बनाने के लिए।  आज मैं देख रहा हूँ कि स्मगलर अपने बच्चों को भी स्मगलर बना रहा है। सरकार से चिटिंग कैसे करनी है वह सीखा रहे है। एक ड्रॉ बैक माफिया का बेटा जेल में महंगे दामों पर जेल में रोटियां मंगाता है ताकि जेल की रोटी ना खानी पड़े, एक और ड्रॉ बैक माफिया अंबानी के पंड़ित को परमानेंट पूजा के लिए रखा है, एक और स्मगलर का बेटा बाप से आगे निकलने की होड़ में है, बाप ने नशा बेचकर 500 करोड़ कमाये है। अब वह नए तरीके से 1000 करोड़ कमाना है। यह हमारे देश के अफसर जिन्होंने कसम ली थी कि देश के प्रति ईमानदारी और निष्ठा की वह अपने तरीके से  ईमानदारी और निष्ठा की कसम निभा रहे है। अपनी तनख्वाह से घर की दाल-रोटी ओर खाने-पीने का सामान लाते है और रिश्वत के पैसे को बड़ी ईमानदारी से सोना और प्रोपर्टी में लगाते है ताकि भगवान से बचा जा सके। अब बात करते है अफसरों की की एक स्मगलर के पास रात को शराब खत्म हो गई होटल में से उसने डीआरआई के अफसर को फोन किया  जोकि उसके केस का एस.आई.ओ था कि शराब खत्म हो गई है बोतल पंहुचा दो। कितनी शरीफ है हमारी डीआरआई डीजेडयू का वह अफसर होटल में शराब देने गया।  यह घटना एक फर्नीचर इम्पोर्टर के सामने घटी जो उसके साथ बैठ कर विहस्की पी रहा था शर्म आ गई उस इम्पोर्टर को की यह है हमारी डीआरआई के जाबाज अफसर। इनके बच्चों को पता चलेगा तो शर्म महसूस होगी अपने ऐसे बाप पर।  एक नामी स्मगलर के दो बेटे है दोनों बड़े हो गए है एक का दिमाग ठीक नहीं है और दूसरा प्रहलाद जैसा हो गया है।  वह नहीं चाहता की मेरा बाप गलत काम करे। अब बाप रात को रोता है कि मेरा बिजनेस कौन संभालेगा बाप करोड़पतियों में शादी करना चाहता है मगर बेटा गरीब घर की लडकी से प्यार करता है। लडकियों का डांस और अफसरों को मुजरे दिखाना बंद करो। कुदरत इंसाफ करती है जैसा करोगे वैसा ही भरोगे यह सब इतना इस लिए लिख रहा हूँ कि हमारे देश के प्रधानमंत्री जी देश की इज्जत बनाने में लगे है और यह भ्रष्ट लोग एक ईमानदार और संत आदमी को बदनाम करने में लगे है। मोदी जी योगी बन जाओं ईंट का जवाब पत्थर से दो सही काम करने वाले आपके साथ है। यह 1-2-3-4-5 अमीरों की लेयर तो वोट भी नहीं डालती।  सिर्फ झूठे नेताओं से बचना पड़ेगा जो धर्म और जाति के नाम पर लोगों को लडवाने और वोट डालने का धंधा करते है मौन रहकर जनता सब देख रही है। गंदी राजनीति करना आपको भी शौभा नही देता। चाणक्य जी कहते है कि देश का राजा ऐसे ही कोई नहीं बन सकता यह कुदरत खुद बनाती है और  राजा को भी चाहिए की दया, क्षमा, ईमानदारी रखें। अगर कोई और भी नेता तथा जनसेवक अच्छा काम कर रहा है तो उसको दबाने के बजाय अच्छा काम करने दे तभी कुदरत आपका साथ देगी। गरीबों और मध्य वर्ग के लोगों का विशेष ध्यान रखना सरकार के लिए बहुत जरूरी है कांग्रेस राज में यह खाई बहुत गहरी हो गई है इसे भरना बहुत जरूरी है । क्रमश:

You are Visitor Number:-