सिगरेट की तस्करी में आयातक का पता निकला फर्जी

सूरत। डीआरआई विभाग ने कस्टम विभाग को गलत जानकारी
देकर सिगरेट आयात करने वाली भुज की पार्टी के खिलाफ
जांच शुरू कर दी है। डीआरआई विभाग के अधिकारियों ने
दस्तावेजों पर बताए गए पते पर जाकर जांच की, लेकिन वहां
कोई पार्टी नहीं मिली।
डीआरआई विभाग के सूत्रों के अनुसार विभाग की टीम ने
शुक्रवार और शनिवार को दुबई से आयात किए गए कन्टेनरों
की शक के आधार पर जांच की थी। आयातकों ने इनमें पेपर
वेस्ट तथा प्लास्टिक वेस्ट होने की जानकारी कस्टम
विभाग को दी थी, लेकिन जांच में चार कन्टेनरों में लगभग
2600 कार्टून में 24.50 करोड़ रूपए की इम्पोर्टेड सिगरेट मिली
थीं।
सिगरेट प्लास्टिक की बैग के पीछे छुपाकर लाई गई थीं।
सिगरेट वापी के वलवाडा स्थित आइसीडी में क्लीयरिंग के
लिए जाने वाली थीं। जांच के दौरान पता चला कि आयात
करने वाली कंपनी का नाम पेरामाउन्ट है और यह भुज की है।
अधिकारी भुज गए। वहां ऎसी कोई कंपनी नहीं मिली।
अधिकारियों ने अब नई दिशा में जांच शुरू की है।
स्रोत : पत्रिका

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics