सरकार माल्या के अलावा नीरव मोदी, मेहुल चोकसी, चेतन संदेसरा, ललित मोदी और नितिन समेत करीब 58 भगोड़ों कारोबारियों को वापल लाना चाहती है.

Image result for malyaनई दिल्ली : पिछले दिनों ब्रिटेन की कोर्ट से भगोड़े कारोबारी विजय माल्या के प्रत्यर्पण को मंजूरी मिलने से भारतीय जांच एंजेंसियों को बड़ी कामयाबी मिली है. सरकार माल्या के अलावा नीरव मोदी, मेहुल चोकसी, चेतन संदेसरा, ललित मोदी और नितिन समेत करीब 58 भगोड़ों कारोबारियों को वापल लाना चाहती है. सरकार की तरफ से बुधवार को इस बारे में संसद में जानकारी दी गई. ये सभी भगोड़े देश में घोटाले करने के बाद विदेशों में रह रहे हैं. इन सभी के लिए इंटरपोल में रेड कॉर्नर नोटिस जारी करने और प्रत्यर्पण की मांग की गई है.

डीआरआई ने 16 अन्य के प्रत्यर्पण की मांग की
टाइम्स ऑफ इंडिया में प्रकाशित खबर के अनुसार सरकार की तरफ से यह भी बताया गया कि इन सभी भगोड़ों के अलावा सरकार और सीबीआई, ईडी, डीआरआई ने 16 अन्य के प्रत्यर्पण की मांग यूएई, यूके, बेल्जियम, इजिप्ट, अमेरिका, ऐंटीगुआ जैसे देशों से की है. विदेश मंत्रालय के तरफ से बुधवार को लोकसभा में एक जवाब में बताया गया है कि अक्टूबर में वीवीआईपी हेलीकॉप्टर खरीद घोटाले में दो अन्य बिचौलियों के प्रत्यर्पण की मांग इटली से की गई है. इससे पहले सीबीआई ने कार्लो जीरोसा के प्रत्यर्पण की मांग नवंबर 2017 में और गुइडो हैश्क के प्रत्यर्पण के लिए जनवरी 2018 में मांग की थी.

हेलीकॉप्टर घोटाले की जांच में बड़ी कामयाबी की उम्मीद
जांच अधिकारियों को उम्मीद है कि कार्लो जीरोसा और हैश्क के प्रत्यर्पण से वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाले की जांच में बड़ी कामयाबी मिल सकती है. इस मामले में क्रिश्चयन मिशेल का पहले ही यूएई से प्रत्यर्पण करा लिया गया है. भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी के बारे में विदेश मंत्रालय की तरफ से कहा गया कि उसके खिलाफ पहले ही रेड कॉर्नर नोटिस जारी हो चुका है. इसके अलावा इंग्लैंड में उसके खिलाफ प्रत्यर्पण की दो अन्य मांगें भी भेजी जा चुकी हैं. नीरव मोदी के भाई नीशल और उसके सहयोगी सुभाष परब के लिए भी यूएई से प्रत्यर्पण की मांग की गई है.

चोकसी के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी

इसी तरह हाल ही में एंटीगुआ में रह रहे मेहुल चोकसी के खिलाफ भी भारतीय एंजेंसियों की याचिका पर इंटरपोल ने रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया है. भारत सरकार एंटीगुआ से चोकसी के प्रत्यर्पण की मांग कर रही है. गुजराती मूल के कारोबारी आशीष जोबनपुत्र और उसकी पत्नी प्रीति के लिए अमेरिका से और पूर्व आईपीएल कमिश्नर ललित मोदी के लिए सिंगापुर से प्रत्यर्पण किए जाने की मांग की गई थी. स्टर्लिंग बायोटेक के जरिये 5 हजार करोड़ का फ्रॉड करने वाले संदेसरा भाइयों के लिए सरकार ने रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया है.

ये है विदेश फरार होने वालों की सूची
सौमित जेना, विजय कुमार रेवा भाई पटेल, सुनील रमेश रूपाणी, पुष्पेश कुमार वैद्य, सुरेंद्र सिंह, अंगद सिंह, हरसाहिब सिंह, हरलीन कौर, अशीष जोबनपुत्र, जतीन मेहता, नीरव मोदी, नीशल मोदी, अमी नीरव मोदी, मेहुल चोकसी, चेतन जयंतीलाल संदेशरा, दीप्ति चेतन संदेशरा, नीतीन जयंतीलाल संदेशरा, सभ्य सेठ, नीलेश पारिख, उमेश पारिख, सन्नी कालरा, आरती कालरा, संजय कालरा, वर्षा कालरा, हेमंत गांधी, इश्वर भाई भट, एम जी चंद्रशेखर, चेरिया वी सुधीर, नौशा कादीजथ और चेरिया वी सादिक शामिल हैं.

source by zeenews

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics