यूपी: 22 हवाई अड्डों का होगा विस्तार, लखनऊ एयरपोर्ट पर खर्च होंगे 1200 करोड़

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है किगोरखपुर एयरपोर्ट से जल्दी ही पड़ोसी देश नेपाल और देश के बड़े महानगरों मुंबई, कोलकाला, बेंगलुरु के बीच हवाई सेवाएं शुरू होगीं। उन्होंने कहा कि यूपी में युद्ध स्तर पर हवाई सेवाओं का विस्तार होगा। योगी ने दावा किया कि प्रदेश के 22 हवाई अड्डों के विस्तार के साथ लखनऊ एयरपोर्ट को हाईटेक सुविधाओं से लैस करने के लिए 1200 करोड़ रुपये खर्च होंगे।

गोरखपुर एयरपोर्ट पर कार्यक्रम में सीएम ने कहा कि जल्द ही हवाई चप्पल पहनने वालों की हवाई यात्रा का सपना साकार होगा। योगी ने बताया कि प्रदेश में 22 हवाई अड्डों का विस्तार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में हवाई सेवाओं को सस्ता और सुगम बनाने का प्रयास किया जा रहा है।
दिल्ली जाने के लिए चुकाने पड़े थे 32 हजार
सीएम ने अपना अनुभव साझा करते हुए कहा कि गोरखपुर से दिल्ली आने-जाने के लिए प्लेन का उन्होंने कई बार 32 हजार रुपये तक किराया चुकाया है। उन्होंने कहा, ‘पहले गोरखपुर एयरपोर्ट ढाबे जैसा दिखता था लेकिन केंद्र सरकार के सहयोग से 2017 में यूपी में बीजेपी की सरकार आने के बाद इसका स्वरूप बदला गया। आज यहां से दिल्ली के लिए 3 हजार रुपये खर्च कर हवाई सेवा ली जा सकती है।’ उन्होंने बताया कि 1998 में गोरखपुर में दिल्ली के लिए सिर्फ 6 यात्री सर्वे में पाए गए थे। वहीं अब हर महीने 14 हजार यात्री गोरखपुर से दिल्ली यात्रा कर रहे हैं।

यूपी में दो इंटरनैशनल एयरपोर्ट
सीएम योगी ने बताया कि केंद्र सरकार की मदद से यूपी में जेवर और कुशीनगर में इंटरनैशनल एयरपोर्ट बनाने की योजना है। वहीं अयोध्या को भी हवाई मार्ग से जोड़ा जाएगा। योगी ने कहा कि गोरखपुर में बड़े महानगरों को जोड़ने की क्षमता है। इसे देखते हुए जल्द ही नेपाल के काठमांडू, देश में कोलकाता, मुंबई और बेंगलुरु जैसे महानगरों के लिए सीधी उड़ान की योजना बनाई जा रही है। वहीं प्रदेश के इलाहाबाद, लखनऊ समेत अन्य प्रमुख शहरों को भी गोरखपुर से जोड़ने की तैयारी है।

सौजन्य से: नवभारत टाम्स

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics