मुंबई नावाशिवा पोर्ट तथा चैनई पोर्ट बना स्मगलिंग का गढ़

Image result for मुंबई : मुंबई कस्टम के मरीन और प्रिवेंटिवमुंबई : मुंबई कस्टम के मरीन और प्रिवेंटिव विंग ने तस्करों के नए रुट का भंडाफोड़ किया है। पहले विदेशों से तस्करी के सामान जहां सीधे मुंबई आते थे अब चैन्नई होकर आने लगे हैं। मुंबई कस्टम विभाग ने 2 बड़ी कार्रवाई करते हुए 10 करोड़ से भी ज्यादा का सामान जप्त किया गया है।
मुंबई कस्टम के मरीन और प्रिवेंटिव विंग के सहायक आयुक्त दीपक पंडित के मुताबिक तस्कर सड़क और रेल के रास्ते सामान मुंबई लाकर यहां अलग-अलग मॉल और सिटी सेंटरों में आपूर्ति करते हैं। जप्त किए गए सामानों में बड़े-बड़े ब्रांड की 10 हजार महंगी घड़ियां साथ मे 6000 ब्लूटूथ हेडफोन और 17 हजार मोबाइल स्क्रेच गॉर्ड और डिस्प्ले स्क्रीन इत्यादि हैं।
मुंबई में तस्करी कोई नई बात नही है लेकिन चैन्नई के रास्ते मुंबई
में तस्करी नया रूट है। पिछले कुछ सालों में मुंबई पोर्ट पर कस्टम अधिकारियों द्वारा सख्ती दिखाने और बड़े बड़े स्कैनर के जरिए बड़े पैमाने पर धरपकड़ करने की वजह से तस्करों ने रूट बदल दिया है। जप्त सामान चीन का है जो दुबई से समंदर के रास्ते पहले सीधे मुंबई आता था अब चैन्नई होकर आ रहा है।
चैन्नई में उतरने के बाद रेल के जरिये मुंबई फिर टम्पो में भरकर तय ठिकानों पर भेजते हैं। मामले में अभी कोई गिरफ्तारी नही हुई है लेकिन 3 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ जारी है, कस्टम विभाग अभी तस्करों पर खुल कर बोलने के लिए तैयार नही है लेकिन बताया जा रहा है कि कार्रवाई को लेकर गिरोहबाज दबाव बनाने की कोशिश में है। शक मुंबई अंडरवर्ल्ड पर भी है।

You are Visitor Number:-