बांग्लादेश से तस्करी कर लाया गया 1.68 करोड़ का सोना बरामद

डीआरआई ने सोना तस्करी के अंतरराष्ट्रीय नेटवर्क का खुलासा किया है। शुक्रवार को गया जंक्शन से दो तस्करों को चार किलोग्राम सोने के साथ गिरफ्तार किया गया। बरामद सोने की कीमत बाजार भाव से 1ण्68 करोड़ रुपए आंकी गई है। तस्करों के तार बांग्लादेश से जुड़े हैं और दोनों सोना लेकर उत्तर प्रदेश के जौनपुर जा रहे थे।

डायरेक्टरेट ऑफ रेवन्यू इंटेलिजेंस ;डीआरआईद्ध को सूचना मिली कि हावड़ा से दो तस्कर भारी मात्रा में सोना लेकर दून एक्सप्रेस से रवाना हुए हैं। टीम ने गया जंक्शन पर घेराबंदी की। दून एक्सप्रेस के गया जंक्शन पहुंचने पर जेनरल डिब्बे में बैठे दो लोगों की तलाशी गई। दोनों के पास से चार किलोग्राम के करीब सोना बरामद हुआ।

gold smuggling

पेट्रोपोल सीमा से पारा कराया गया सोना
डीआरआई को तस्करों से पूछताछ में कई अहम जानकारी मिली है। भारत.बांग्लादेश के पेट्रोपोल सीमा पर तस्करों को सोना सौंपा गया था। वहां से दोनों हावड़ा स्टेशन पहुंचे और दून एक्सप्रेस से जौनपुर के लिए चल पड़े। इससे पहले भी दोनों कई दफे सोने की तस्करी कर चुके हैं। हर खेप के लिए इन्हें 65.65 हजार रुपए मिलते थे। डीआरआई ने इस रैकेट में शामिल अन्य बदमाशों को पर कार्रवाई के मद्देनजर गिरफ्तार तस्करों के नाम का खुलसा नहीं किया है।

50 लाख नगद व हवाला से किया पेमेंट
सोना तस्करी का यह अंतरराष्ट्रीय रैकेट काफी बड़ा है। तहकीकात में जो बातें सामने आई है वह चौंकाने वाली है। 1ण्68 करोड़ मूल्य के सोने के लिए 50 लाख रुपए नगद दिए गए। वहीं बाकी के रकम का भुगतान हवाला के माध्यम से किया गया। इस रैकेट में उत्तर प्रदेशए पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश के तस्कर शामिल हैं।

आयात पर 20 प्रतिशत लगता है ड्यूटी
सोने के आयत पर भारत में मोटी ड्यूटी लगती है। जानकारी के मुताबिक सोने के आयात पर 20 प्रतिशत कस्टम ड्यूटी देना होता है। कस्टम ड्यूटी बचाने के अलावा इसमें काली कमाई आसानी से खप जाती है।

 

सौजन्य से हिंदुस्तान हिंदू

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics