बड़ी कार्रवाई सवा तीन करोड़ की धांधली पकड़ी

Image result for gstबड़ी कार्रवाई. जीएसटी में बड़े स्तर पर गड़बड़ी, कागजात की हो रही है जांच
पटना : शहर में सिटी केबल के नाम से केबल कनेक्शन देने वाली जीटीपीएल, डीसीपीएल प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के ठिकाने पर जीएसटी की छापेमारी गुरुवार को की गयी. केंद्रीय जीएसटी की टीम ने कंपनी के फ्रेजर रोड स्थित शांति निकेतन भवन में मौजूद कार्यालय में सुबह से लेकर शाम तक कई घंटे छानबीन की. इस दौरान जीएसटी में बड़े स्तर पर गड़बड़ी और पिछले आठ महीने से जीएसटी जमा नहीं करने की भी बात सामने आयी.
अब तक जांच में तीन करोड़ 24 लाख रुपये की जीएसटी चोरी का बात सामने आयी है, जिसमें 2.96 करोड़ की ऑन स्पॉट वसूली की गयी है. यह भी पता चला कि कंपनी ग्राहकों से बिना रसीद के पैसे वसूलती थी और जीएसटी भी जमा नहीं करती थी. ग्राहकों की संख्या को काफी कम करके दिखाते हुए जीएसटी भी कम जमा किया जाता था. पिछले आठ महीने से कंपनी ने वह भी जमा नहीं किया था. फिलहाल सभी कागजातों की जांच की जा रही है.
 
सवा तीन करोड़ की धांधली पकड़ी
इसके अलावा इसके डिजिटल लॉग बुक से भी ग्राहकों की संख्या का मिलान करके सही संख्या में जीएसटी की चोरी का पता लगाया जा रहा है. शुरुआती जांच में अब तक सवा तीन करोड़ की धांधली पकड़ी जा चुकी है. जीएसटी आयुक्त रंजीत कुमार के आदेश पर यह छापेमारी की गयी, जिसका नेतृत्व उपायुक्त आशुतोष कुमार सिंह ने किया.
पार्थ आश्रम कोचिंग सेंटर के छह ठिकानों पर दूसरे दिन भी जीएसटी की छापेमारी जारी रही. अब तक की जांच में तीन करोड़ के आसपास की गड़बड़ी मिल चुकी है, जिसमें 50 लाख रुपये एक बार में ही कोचिंग संस्थान ने जमा कर दिये हैं. इसमें बड़ी संख्या फर्जी बिल के जरिये और छात्रों की संख्या कम करके दिखाते हुए टैक्स की चोरी की गयी है. फिलहाल यहां से जब्त किये गये तमाम कागजातों की गहन जांच चल रही है.
जांच पूरी होने के बाद टैक्स चोरी का यह आंकड़ा बढ़ भी सकता है. जब्त किये गये कागजातों की संख्या बहुत ज्यादा होने की वजह से इस जांच में देरी हो रही है. पार्थ आश्रम कोचिंग के जिन छह ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की गयी है, उसमें कंकड़बाग में दो, बोरिंग रोड स्थित दो, बाजार समिति स्थित एक और मलाही पकड़ी स्थित संचालक या मालिक के आवास शामिल हैं. बिहार में यह पहला मौका है, जब किसी जीएसटी की रेड में एक साथ छह ठिकानों पर इतनी बड़े स्तर पर छापेमारी की गयी है. इस कोचिंग संस्थान ने जीएसटी लागू होने के पहले सर्विस टैक्स में भी बड़े स्तर पर गड़बड़ी की है.
दो अन्य कोचिंग संस्थानों के यहां भी छापेमारी
पार्थ आश्रम के अलावा भी शहर को दो कोचिंग संस्थानों में छापेमारी की गयी है. इनके यहां छापेमारी चल रही है. एक कोचिंग संस्थान के चार ठिकानों पर छापेमारी की गयी है, जिसमें करीब दो करोड़ की गड़बड़ी सामने आयी है. जिन ठिकानों पर छापेमारी हुई है, उसमें बोरिंग रोड में दो और दो स्थान बाजार समिति में शामिल हैं. इसके अलावा एक अन्य कोचिंग संस्थान में भी जांच चल रही है. जांच पूरी होने के बाद ही गड़बड़ी से जुड़ी स्थिति स्पष्ट हो पायेगी
सौजन्य से : प्रभात खबर

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics