पेट्रो पदार्थों को जीएसटी के दायरे में लाए सरकार

रुद्रपुर : कांग्रेस के उत्तराखंड के सहप्रभारी राजेश धर्माणी ने कहा कि सरकार पेट्रो पदार्थों को जीएसटी के दायरे में लाए तो पेट्रो पदार्थों की कीमतों में अप्रत्याशित कमी आ जाएगी। उन्होंने कहा कि उज्ज्वला योजना का नाम देकर गरीबों को छला जा रहा है। किसी को निःशुल्क गैस कनेक्शन नहीं मिल रहा है। दूसरे सरकार ने गैस सिलेंडर के दाम इतने बढ़ा दिए हैं कि सिलेंडर साढ़े नौ रुपये का हो गया है। यानि कांग्रेस राज की तुलना में दोगुना से अधिक। उन्होंने राज्य में होने जा रही इंवेस्टर समिट को सिर्फ चुनावी स्टंट बताया। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार में देश की सीमाओं पर शहादत बढ़ी है।

वह कांग्रेस के कार्यालय में पत्रकारों से बात कर रहे थे। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी ने लोकसभा चुनाव के वक्त जनता से सिर्फ साठ महीने मांगे थे, लेकिन अभी तक उन्होंने अपने चुनावी वायदे पूरे नहीं किए। उन्होंने दावा किया कि आम लोग अब मोदी के लच्छेदार भाषण सुनना पसंद नहीं करते हैं और मोदी जब टीवी चैनलों पर आते हैं तो लोग टीवी बंद कर देते हैं, क्योंकि लोग अब यह समझ चुके हैं कि मोदी सिर्फ झूठी बातें करते हैं। श्री धर्माणी ने कहा कि नरेंद्र मोदी ने जापान में कहा था कि वह बड़े विजनेसमैन हैं, क्योंकि वह विजनेस मैनों की नगरी से ताल्लुक रखते हैं। कहा कि मोदी यह साबित करके दिखा रहे हैं कि कैसे जनता की पीछे की जेब से पैसा निकाल सकते हैं।

कहा कि बूथ लेबल पर कांग्रेस के संगठन को चुस्त दुरुस्त करके कांग्रेस मोदी के झूठ का मुकाबला करेगी। जनता अब जुमलेबाजी के झांसे में नहीं आएगी। कहा कि इंवेस्टर समिति सभी करते हैं, लेकिन यह देखा जाना चाहिए कि निवेश कितना हुआ। कहा कि यह लोकसभा चुनाव के मद्देनजर जनता को गुमराह करने का प्रयास है। उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस लोकसभा चुनाव में उत्तराखंड की पांचों सीटें जीतेगी। देश में दो सौ सीटों पर कांग्रेस प्रत्याशी जीतेंगे। पत्रकार वार्ता में कांग्रेस के जिलाध्यक्ष जितेंद्र शर्मा, महानगर अध्यक्ष जगदीश तनेजा, पूर्व पालिकाध्यक्ष मीना शर्मा, अनिल शर्मा, संदीप चीमा, पुरुषोत्तम अरोरा, नंदलाल आदि मौजूद थे।

सौजन्य से: पंजाब केसरी

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics