पूर्व पीएम मनमोहन सिंह बोले- 2 करोड़ नौकरियों का इंतजार कर रहा है देश का युवा

नई दिल्ली, एएनआई। देश की मौजूदा अर्थव्यवस्था और नोटबंदी व जीएसटी के फैसले को लेकर कांग्रेस ने मोदी सरकार पर सवाल उठाए हैं। पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने कहा कि बेरोजगारी बढ़ रही है। वहीं, कपिल सिब्बल ने कहा कि नोटबंदी ने जीडीपी की दर को गिराने का काम किया।

पूर्व प्रधानमंत्री और अर्थशास्त्री मनमोहन सिंह ने कहा कि ‘मेक इन इंडिया’ और ‘स्टैंड-अप इंडिया’ जैसी स्कीमों का अब भी औद्योगिक बढ़त पर प्रभाव नहीं दिखता। यहां तक कि छोटे उद्यमों को भी ‘ईज ऑफ डूइंग बिजनेस’ से कोई लाभ नहीं हुआ।

पूर्व पीएम मनमोहन सिंह बोले- 2 करोड़ नौकरियों का इंतजार कर रहा है देश का युवा

मनमोहन सिंह ने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी के बेढंगे अनुपालन से भी उद्योगों को काफी नुकसान हुआ है। उन्होंने कहा कि देश का युवा बेसब्री से 2 करोड़ नौकरियों का इंतजार कर रहा है, जिनका वादा पीएम नरेंद्र मोदी ने चुनाव प्रचार के वक्त किया था। मनमोहन सिंह ने कहा कि पिछले 4 साल में बेरोजगारी दर बढ़ रही है। मोदी सरकार द्वारा पेश किए गए आंकड़ों से लोग खुश नहीं है।

वहीं पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने भी नोटबंदी को असफल बताते हुए मोदी सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए कहा, ‘महान नेता ने हमें नोटबंदी दी, जिसमें हमने 1.5 प्रतिशत जीडीपी खो दी। किसी और देश में उन्हें इस्तीफा देना पड़ जाता, जिस तरह से जीएसटी लागू किया गया। यहां एक व्यक्ति है, जिसके पास संसद में बहुमत है और पिछले चार में उन्होंने आर्थिक विकास, उदारीकरण के क्षेत्र में क्या किया है?

कपिल सिब्बल ने देश की मौजूदा अर्थव्यस्था पर सवाल उठाते हुए कहा, उन्होंने हमपर पॉलिसी पैरालिसिस का आरोप लगाया लेकिन इस पॉलिसी पैरालिसिस के दौर में 8.2 प्रतिशत जीडीपी थी, जो भारत के इतिहास में कभी नहीं हुआ। तो यह (जीडीपी) पॉलिसी पैरालिसिस का नतीजा था लेकिन मैं समझता हूं कि आज कोई पॉलिसी पैरालिसिस नहीं है, लेकिन जीडीपी कहां है?’

सौजन्य से: जागरण

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics