देशभर में ज्वैलरों की हड़ताल कारण 1 प्रतिशत सेंट्रल एक्साइज ड्यूटी, कितना सच है इस हड़ताल के पीछे, डर ड्यूटी का या डिपार्टमेंट का

April 2016 Monthly 1 to 8 Pageनई दिल्ली : आज महीने भर से ऊपर हो गई है देशव्यापी ज्वैलरों की हड़ताल को। मगर सभी आश्वासनों के बाद भी हड़ताल खत्म नहीं हो रही है। कारण क्या है रेवेन्यू न्यूज़ ने इस बारे में खोज की रेवेन्यू न्यूज़ के पास जो तथ्य सूत्राों द्वारा इक्ट्ठे हुऐ वह चौकाने वाले थे जगह-जगह पर जा कर हमने एसोसिएशन के पदाधिकारियों से बात की, ज्वैलरों से बात की कि क्या कारण है इतनी लम्बी हड़ताल का? सभी एक ही स्वर में एक ही बात बोलते है कि भाई असली कारण 1 प्रतिशत ड्यूटी नहीं है वो तो जो ड्यूटी के दायरे में आयेगा वो देंगे। हमें प्रोब्लम है इस डिपार्टमेंट से यह देश का सबसे बड़ा भ्रष्ट डिपार्टमेंट है कहता कुछ है करता कुछ। हमारा मकसद एक ही है कि इस डिपार्टमेंट को घुसने नहीं देना यह हमारा जीना हराम कर देंगे।
सरकार कहती है कि अफसर दुकान पर नहीं आयेंगे मगर सम्मन देकर बुला तो सकते है बात-बात पर अरेस्ट करने की धमकी देंगे। फिर शुरु होगा ब्लैक मैलिंग का धंधा। पाई-पाई का हिसाब लेंगे हमें सपने में भी डर लगता है इन अफसरों से, यह शब्द इस्तेमाल करते है ज्वैलर्स।
सूत्रा कहते है कि इनकी तो मौज हो जायेगी कितने भी आश्वासन दे दे जेटली जी हम हड़ताल खत्म नहीं करेंगे और भी ढेर सारे कारण बताये गये हैं कि इस डिपार्टमेंट को समझाना हमारे लिए मुश्किल हो जाऐगा। बस हमारा मकसद है यह डिपार्टमेंट हमारे से दूर रहे। पहले भी हम सात डिपार्टमेंट झेल रहे है।

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics