दिल्ली के टॉप-25 स्मगलर कस्टम के निशाने पर

नई दिल्ली : कस्टम विभाग की खूफिया यूनिट को दिवाली के मौके पर दिल्ली में बड़े स्तर पर विदेशों से सोने और अन्य चीजों की स्मगलिंग किए जाने के इनपुट मिले हैं। इस बात को देखते हुए कस्टम ने भी अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं। इसके लिए दिल्ली-एनसीआर के ऐसे टॉप स्मगलरों की लिस्ट तैयार की गई है, जो गैंग सालभर गोल्ड और अन्य चीजों की स्मगलिंग में सक्रिय रहे थे। ऐसे बड़े स्मगलर गैंग की संख्या 25 से अधिक बताई गई है।

इन स्मगलरों और इनके गैंग को काबू में करने के लिए कस्टम विभाग ने टी-3 पर चारों ओर अपना जाल बिछाना शुरू कर दिया है। ताकि स्मगलरों द्वारा विदेशों से लाई जाने वाली स्मगलिंग की बड़ी खेप को पकड़ा जा सके। बताया जाता है कि दीपावली को देखते हुए स्मगलर विदेशों से सोने के बिस्कुट के अलावा सामान, चेन, महंगी घड़ियां, मोबाइल फोन, सिगरेट, परफ्यूम और इसी तरह गिफ्ट करने के कुछ अन्य सामानों की स्मगलिंग करने की योजना बना रहे हैं।

इसके लिए स्मगलरों द्वारा दुबई, बैंकॉक और थाइलैंड के अलावा मलयेशिया से टी-3 वाला एयर रूट पकड़ने की उम्मीद है। ऐसे में कस्टम अभी से इन रूटों से दिल्ली आने वाली तमाम फ्लाइट्स की मॉनिटरिंग करना शुरू कर रहा है। साथ ही ऐसे यात्रियों की हर रोज लिस्ट भी तैयार करने की योजना है, जो लोग इन जगहों पर घूमने के लिए जा रहे हैं और एक-दो दिन में ही वापस आ रहे हैं।

कस्टम ने अभी से ही यात्रियों की प्रोफाइलिंग शुरू कर दी है। अपनी टीम को आईजीआई एयरपोर्ट के टी-3 पर लगभग हर जगह तैनात किया जा रहा है। खासतौर से वॉशरूम के आसपास सीसीटीवी कैमरों से भी मॉनिटरिंग की जा रही है। क्योंकि कुछ मामलों में यह देखा गया है कि विदेश से सोना लाने के बाद कुछ कैरियर बाथरूम में जाते हैं और फिर वहां सोने की डिलिवरी किसी और को देकर खुद खाली हाथ टी-3 से बाहर निकल जाते हैं।

इसलिए कस्टम स्मगलरों की हर उस गतिविधि पर ध्यान रखना शुरू कर रहा है, जहां से वह गोल्ड या अन्य कीमती सामान लेकर कस्टम को बिना ड्यूटी दिए टी-3 से बाहर निकल सकते हैं।

सौजन्य से: नवभारत टाइम्स

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics