दिल्ली आईजीआई एयरपोर्ट पर कस्टम अधिकारी बताकर यात्री का एक किलो सोना उड़ाया

नई दिल्ली : आईजीआई एयरपोर्ट पर टर्मिनल बिल्डिंग के अंदर दो लोगों ने खुद को कस्टम अधिकारी बताकर एक यात्री का करीब एक किलो सोना उड़ा लिया। पीडि़त यात्री राकेश गोदारा बैंकॉक से आए थे। विमान से उतरते ही आरोपी उनके पीछे लग गए थे। उन्होंने सोने पर कस्टम अधिकारियों द्वारा दोगुना सीमा शुल्क लगाने के साथ ही गिरफ्तारी की बात कह सोने को कब्जे में लिया। आरोपियों ने कहा कि वे सोना बाहर दे देंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। काफी देर तक इंतजार करने के बाद जब आरोपी बताए गए स्थान पर नहीं मिले तो राकेश ने कस्टम अधिकारियों से शिकायत की। राकेश का आरोप है कि बाहर निकलने को लेकर उनकी पिटाई भी की गई।
आईजीआई थाना पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस सीसीटीवी के जरिए आरोपियों की पहचान की कोशिश कर रही है। पीडि़त के मुताबिक एक आरोपी ने चेक शर्ट, जबकि दूसरे आरोपी ने हरे रंग की शर्ट पहन रखी थी।
पुलिस के मुताबिक राकेश गोदारा मूल रूप से हरियाणा के सिरसा के रहने वाले हैं। वह 28 मई को थाई एयरवेज की फ्लाइट संख्या टीजी-331 से बैंकॉक से दिल्ली आए थे। राकेश का कहना है कि उनके पास 926.82 ग्राम सोना था। वह इमीग्रेशन क्लीयर करने के लिए लाइन में लगे थे तभी दो लोग वहां आए। उन्होंने खुद को कस्टम अधिकारी बताते हुए पूछा कि उनके पास सोना तो नहीं है। यात्री ने उन्हें सोने के बारे में बताया। इस पर उन्होंने कहा कि यदि वह सोने के बारे में कस्टम को बताएंगे तो दोगुना सीमा शुल्क का भुगतान करना होगा। गिरफ्तार भी कर लिया जाएगा।
ठगों ने कहा कि सोना मुझे दे दो इसे बाहर निकाल दूंगा। राकेश ने गिरफ्तारी के डर से सोना उन्हें सौंप दिया। वे एयरपोर्ट पर बताए गए स्थान पर ठगों का इंतजार करते रहे, लेकिन वे नहीं आए। इसके बाद उन्होंने कस्टम अधिकारियों को जानकारी दी। पीडि़त का आरोप है कि घटना की जानकारी लेने के बजाए अधिकारियों ने उन्हें बाहर जाने को कहा। एयरपोर्ट से बाहर निकलने में आनाकानी करने पर उनके साथ मारपीट की गई। एयरपोर्ट से निकलकर उन्होंने ठगी की शिकायत पुलिस में की।

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics