डीआरआई ने 105 करोड़ रुपये के सोने की तस्करी में 2 को गिरफ्तार किया

Related imageमुंबई। सोने की तस्करी के मामले में गुजरात के दो व्यवसायी भाइयों को गिरफ्तार किया गया है। दोनों ने छह महीने में लगभग 105 करोड़ रुपये मूल्य के 350 किलो सोने की तस्करी कर डाली। 21 बार में यह सोना लाने वाले दोनों भाइयों को डीआरआई ने गिरफ्तार कर लिया है।
राजकोट का रहने वाला मिलन पटेल दुबई स्थित मेट्रो गोल्ड ऐंड डायमंड ज्वैलरी में पार्टनर है। सोने की बढ़ती मांग को देखकर उसके दिमाग में सोने की तस्करी की बात आई और इसके लिए उसने एक कारीगर भी रखा। जांच अधिकारियों के मुताबिक उसने अपने भाई गौतम की मदद से सोने को पिघलाकर तस्करी शुरू की।
गौतम इंडक्शन फर्नेस बनाने का काम करता है और चैंपियन एग्जिम को कंपनी भी चलाता है। कहा जा रहा है कि तस्करी के तार दुबई और पाकिस्तान से भी जुड़े हैं। राजकोट में पांच मंजिल की बिल्डिंग के मालिक दोनों भाइयों को पांच जनवरी तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है।
शुरूआत में दोनों ने मशीन पार्ट में तांबा छुपाकर भेजा और जांच में इसका पता नहीं चला। इसके बाद उन्होंने अफ्रीकी देशों से सोना खरीद कर उसे दुबई में पिघलाया और वहां से उसे मशीन पार्ट्स में छुपाकर भारत लाया जाने लगा। शुरूआत में आठ मशीन पार्ट्स में आधा किलो सोना भेजा गया और बाद में इसकी मात्रा बढ़ाकर एक किलोग्राम कर दी।जांच अधिकारियों ने बताया कि दोनों ने 16 दिसंबर को 35 किलो और 20 दिसंबर को 40 किलो और सोने की तस्करी की।

You are Visitor Number:-