डीआरआई ने सिगरेट माफिया की कमर तोड़ी 15 करोड़ की विदेशी सिगरेट पकड़ी

Image result for डीआरआई ने सिगरेट

नोएडा। दुबई से स्मगलिंग कर भारत लाई गई इंडोनेशिया की 15 करोड़ रुपये की डेढ़ करोड़ सिगरेट को डायरेक्टोरेट आॅफ रेवेन्यू इंटेलिजेंस (डीबारबाइ) ने प्रदेश के विभिन्न जगहों पर छापेमारी कर पकड़ा है। तीन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ हो रही है। गोरखपुर में स्मगलिंग की सिगरेट को रखने के लिए बनाए गए गोदाम को सील कर दिया गया है।
डीआरआइ को अंदेशा है कि इंडोनेशिया से लाकर भारत में अरबों की स्मगलिंग सिगरेट को खपाया गया है।
सभी एजेंसियों को इसकी जानकारी दे दी गई है। तमाम एजेंसियां स्थानीय बाजारों में छापेमारी कर स्मगलिंग की सिगरेट को पकड़ने में जुट गई हैं। डीआरआइ लखनऊ और नोएडा की टीम को जानकारी मिली कि स्मगलिंग कर भारत लाई गई सिगरेट को कंटेनर में लखनऊ के रास्ते नोएडा लाया जा रहा है। डीआरआइ की टीम ने एक कंटेनर लखनऊ में पकड़ा। इसमें इंडोनेशिया के गुदांग गरम ब्रांड की 35 लाख सिगरेट को प्लास्टिक के दो पैकेट में बंद कर रखा गया था।
टीम ने सिगरेट को बरामद कर लिया। कंटेनर के साथ पकड़े गए लोगों से पूछताछ में जानकारी मिली कि सिगरेट को गोरखपुर के इंडस्ट्रीयल एरिया में स्थित गोदाम से लाया जा रहा था। गोरखपुर के गोदाम में भी छापेमारी हुई, जहां से 35 लाख सिगरेट बरामद हुए।
गोरखपुर में पता चला कि 40 फीट के कंटेनर में 70 लाख सिगरेट नोएडा के लिए भेजे गए हैं। डीआरआइ नोएडा की टीम ने गाजियाबाद के डासना से कंटेनर को पकड़ लिया, जिसमें 8 करोड़ कीमत की इंडोनेशिया के ही जेरियम ब्लैक ब्रांड सिगरेट को बरामद किया गया। डीआरआइ नोएडा के डिप्टी कमीश्नर रोहित द्धिवेदी ने बताया कि इन तीन जगहों के अलावा भी कई जगह छापेमारी की गई। इसमें करीब डेढ़ करोड़ सिगरेट बरामद हुई है, जिसकी कीमत करीब 15 करोड़ है।

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics