डीआरआई ने बंगाल के कुंज विहार से दिल्ली जा रहे गांजा जब्त किया

Image result for ganja smuggling

मुजफ्फररपुर :गायघाट के मैठी टोल प्लाजा पर शनिवार रात कपड़े की कतरन लदे कंटेनर से पांच सौ किलो गांजा पकड़ा गया है। करीब 20 लाख रुपये का गांजा पश्चिम बंगाल के कुंज विहार से मुजफ्फरपुर, गोरखपुर होते हुए दिल्ली जा रहा था। छह बोरों में 49 बैग गांजा छिपाकर रखा था। डीआरआई पटना व मुजफ्फरपुर की संयुक्त कार्रवाई में दो धंधेबाज भी धराये हैं। दोनों को रविवार दोपहर न्यायिक हिरासत में भेजा गया है।
चार दिन पूर्व डीआरआई पटना को सूचना मिली कि कुंज विहार से गांजे की बड़ी खेप दिल्ली भेजी जा रही है। डीआरआई पटना व मुजफ्फरपुर की टीम ने रेकी के बाद शनिवार रात करीब 11 बजे मैठी टोल प्लाजा से कंटेनर को पकड़ लिया। मौके से कंटेनर चालक धनबाद के कतरासगढ़ निवासी सुमित तिवारी व खलासी आरा के मसाढ़ निवासी काली चरण को गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में मुख्य धंधेबाज भोला सिंह व हरेंद्र सिंह के नाम सामने आये हैं। दोनों आरा के मसाढ़ के बताये गये हैं।
1.25 लाख में तय हुआ था सौदा
कंटेनर चालक सुमित ने पूछताछ में बताया कि गांजा कुंज विहार से दिल्ली पहुंचाने के लिए एक युवक से 1.25 लाख रुपये में सौदा हुआ था। बीस हजार रुपये एडवांस के तौर पर उसने लिए थे। बाकी रकम दिल्ली में मिलनी थी। बताया जाता है कि गांजा छोटी गाड़ियों से ट्रक तक पहुंचाया गया था। दिल्ली पहुंचने पर उसे एक नंबर पर कॉल करना था। जहां से गांजे को ठिकाना लगाया जाना था।
34 दिन में चैथी बार पकड़ा गांजा
डीआरआई टीम ने बताया कि अगस्त से शनिवार रात तक चार बार गांजा बरामद किया जा चुका है। गायघाट में ही चार सितंबर को अनानास लदे कंटेनर से 220 किलो गांजा व दो कैरियर पकड़े गये थे। वहीं 16 सितंबर को जंक्शन पर कविगुरू एक्सप्रेस की एसी बोगी से 103 किलो गांजे के साथ दो युवक को पकड़ा था। वहीं, 28 अगस्त को 60 लाख के गांजे के साथ तीन कैरियर भी पकड़े गये थे।

सौजन्य से : लाइव हिंदुस्तान टाइम्स

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics