डीआरआई ने पकड़ी जाली मुद्रा

पटना: 24 जून : राजस्व आसूचना निदेशालय :डीआरआई: की टीम ने मोतिहारी-मुजफ्फरपुर मुख्य मार्ग पर मेहसी गांव के समीप एक बस में यात्रा कर रहे एक जाली नोट तस्कर को आज दस लाख रूपये भारतीय जाली मुद्रा के साथ धर दबोचा।fake-currency
डीआरआई पटना की टीम ने गुप्त सूचना के आधार पर मुन्ना आलम :25: जो पश्चिम चंपारण जिला के जगदीशपुर थाना अंतर्गत जगदीशपुर सेखौना गांव का रहने वाला है को दस लाख रूपये भारतीय जाली मुद्रा के साथ आज गिरफ्तार कर लिया।
मुन्ना उक्त जाली नोट को एक बांग्ला समाचार पत्र में लपेटकर तथा एक थले में रखकर पश्चिम बंगाल के मालदा से फरक्का एक्सप्रेस ट्रेन से पटना पहुंचा था। वहां से एक निजी बस से पश्चिम चंपारण जिला मुख्यालय बेतिया लेकर जा रहा था।
डीआरआई सूत्रों ने बताया कि मुन्ना ने पूछताछ के दौरान यह बताया कि वह इस तरह के जाली नोट की खेप पिछले दो महीनों में 15 से 20 बार ला चुका है। मुन्ना जिस गिरोह के लिए काम करता है उसका सरगना नेपाल में है।
उल्लेखनीय है कि गत 14 जून को पश्चिमी चंपारण जिले के नौतन थाना अंतर्गत उत्तर तेन्दुआ गांव में पुलिस ने छापेमारी कर 12.5 लाख रुपये के भारतीय जाली मुद्रा बरामद किये थे और इस सिलसिले में मनोज कुमार यादव, नर्मदेश्वर गिरी और दुर्गेश यादव नामक तीन जाली नोट तस्करों को गिरफ्तार किया था

स्रोत : पीटीआई

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics