गुरुमेहर माइनिंग को सेंट्रल एक्साइज ने दिया नोटिस

रायगढः-़ सर्विस टैक्स वसूलने के बाद भी शासन के खाते में 1 करोड़ 30 लाख जमा नहीं करने पर गुरुमेहर माइनिंग सर्विस कंपनी पर कार्रवाई की गई है। कंपनी द्वारा 3 साल से रिटर्न फाइल नहीं करने के बाद सेंट्रल एक्साइज ने एकाउंट आडिट में बड़ी गड़बड़ी़ है और कंपनी को नोटिस जारी कर पेनाल्टी के साथ राशि जमा करने का अल्टीमेटम दिया है। गुरुमेहर माइनिंग सर्विस कंपनी पर सेंट्रल एक्साइज की टीम ने जांच की थी।

लगातार कुछ सालों से कंपनी द्वारा अपनी कर संबंधी देयता छिपाने के बाद विभाग ने संदेह के आधार पर निरीक्षण किया था । जिसके बाद कंपनी के अकाउंट्स बुक व दूसरे रिकार्ड लेकर की गई जांच में सर्विस टैैक्स में लंबा गोलमाल सामने आया है। रिकार्ड के अनुसार कंपनी माइनिंग एवं इससे जुड़े उद्योगों एवं फर्मों को सर्विस देती है और इसके लिए बाकायदा कंपनी द्वारा सर्विस टैक्स लिया जाता है। नियमों के अनुसार सर्विस टैक्स वसूलने के बाद संबंधित फर्म को त्रौमासिक रिटर्न सबमिट करना होता है और इसकी राशि शासकीय खाते में जमा करानी होती है लेकिन कंपनी ऐसा नहीं कर रही थी और बीते 3 सालों में करीब 1 करोड़ 30 लाख रुपए से अधिक की सर्विस टैक्स की राशि जमा नहीं की जा रही थी। जिसके बाद विभाग ने कंपनी को रिकवरी नोटिस देकर राशि जमा करने का अल्टीमेटम दिया है। आडिट में सेंट्रल एक्साइज ने कंपनी के 3 सालों के बही खातों की जांच की और पाया कि कंपनी द्वारा वित्तीय वर्ष 2013-14 से लेकर अब तक एक भी रिटर्न फाइल नहीं किया गया था। जिसके बाद विभाग ने इसमें अपनी कार्रवाई शुरू कर दी है।
सौजन्य से: भास्कर न्यूज

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics