कोलकाता फ्लाइट उड़ान से पहले कस्टम टीम ने कानपुर एयरपोर्ट पर पकड़ा सोना

कानपुर, जेएनएन। कस्टम विभाग के अधिकारियों ने अहिरवां एयरपोर्ट पर कोलकाता जा रहे रेडीमेड गारमेंट के कारोबारी के पास से सोना पकड़ा, जिसे वह उसे घड़ी में छिपाए था। उसे कोलकाता की फ्लाइट में चढऩे से पहले ही रोक लिया गया था। कानपुर एयरपोर्ट पर सोना पकड़े जाने की यह पहली घटना है।

कस्टम अधिकारियों को सूचना मिली कि कानपुर से चक्रधर गगनीश त्रिपाठी नाम का युवक अहिरवां एयरपोर्ट से कोलकाता जा रहा है, उसकी घड़ी में सोना है। उपायुक्त चंचल तिवारी ने एयरपोर्ट पर केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआइएसएफ) के अधिकारियों को जानकारी देकर चक्रधर को रोकने के लिए कहा। सीआइएसएफ के अधिकारियों ने शनिवार को कोलकता फ्लाइट की उड़ान से पहले ही उसे चढऩे से रोक लिया।

कस्टम अधिकारियों के एयरपोर्ट पहुंचते ही सीआइएसएफ के अधिकारियों ने चक्रधर को उनके हवाले कर दिया। कस्टम अधिकारियों ने तलाशी ली तो उसकी घड़ी से 150 ग्र्राम सोना मिला। अधिकारियों ने चक्रधर और सोने को अपने कब्जे में लेकर उससे बयान लेने शुरू किए। चक्रधर के पास जो पासपोर्ट मिला, उस पर गोरखपुर का पता दर्ज है जबकि वह कोलकाता में रहकर रेडीमेड का कारोबार करता है। चक्रधर ने अधिकारियों को बताया कि वह यह सोना बैंकाक से लाया है। वह बैंकाक अक्सर आता जाता है, लेकिन कोलकाता में उतरता है। इस बार वह पहले कानपुर अपने बीमार रिश्तेदार को देखने आया था। इसके बाद कोलकाता लौट रहा था।

कोलकाता फ्लाइट उड़ान से पहले कस्टम टीम ने कानपुर एयरपोर्ट पर पकड़ा सोना

कस्टम उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड के उपायुक्त चंचल तिवारी का कहना है कि अभी सोना सीजकर चक्रधर के बयान लिए जा रहे हैं। उसके पासपोर्ट से यह जानकारी मिली है कि वह हर माह दो-तीन बार बैंकाक जाता है। यह कम सोना है, इसलिए उसे पेनाल्टी लगाकर छोड़ दिया जाएगा लेकिन जांच जारी रहेगी। अगर यह साबित हो जाता है कि इस तरीके से बीस लाख रुपये से अधिक का सोना ला चुका है तो उसकी गिरफ्तारी की जाएगी।

 

सौजन्य से: जागरण

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics