कारोबारियों को जीएसटी जमा करने की मिली छूट

लॉकडाउन में सरकारी दफ्तरों को भी बंद कर दिया गया था। लेकिन अंबाला के सरकारी दफ्तरों को क्रमबद्ध तरीके से सोमवार को खोला गया। जिला एक्साइज एवं टेक्सेशन डिपार्टमेंट और नगर परिषद कार्यालय दस बजे खुला। अधिकारी और अन्य स्टाफ समय से दफ्तर पहुंचे। वहीं लोग भी अपने काम को लेकर दफ्तर पहुंचे। लॉकडाउन के चलते जीएसटी दाखिल करने वाले कारबारियों को रियायत दी गई। अब जीएसटी जमा करने के लिए 30 मई तक की छूट दी गई है। मई के बाद कारोबारी आसानी से जमा कर सकते है। अंबाला में 18 हजार से अधिक कारोबारी

अंबाला जिले की बात करे तो छोटे बड़े करीब 18 हजार से अधिक कारोबारी है। जो समय से अपना रिटर्न भरते हैं। लेकिन लॉकडाउन की वजह से कारोबारियों का व्यापार चौपट हो गया। इसे पटरी पर लाने के लिए कई महीनों तक इंतजार करना पड़ेगा। ऐसे में अफसरों ने कारोबारियों को जीएसटी जमा करने में तीन माह की छूट दी है। नप खुला, लेकिन आने जाने वालों पर रोक

नगर परिषद कार्यालय सोमवार को खोल दिया गया है। अधिकारी और बाबू व अन्य स्टाफ समय से दफ्तर पहुंचे। ऐसे में सभी ने अपना-अपना काम निपटाया। दफ्तर में शारीरिक दूरी का विशेष ध्यान रखा गया। नगर परिषद में हालांकि अभी लोगों की एंट्री बंद की गई है। कारोबारी आसानी से जमा कर सकते हैं जीएसटी

लॉकडाउन में जैसे ही दफ्तर खुला तो लोगों का आवागमन होने लगा। डीईटीसी अधिकारी सुरेंद्र कुमार ने बताया कि कारोबारियों को रिटर्न दाखिल करने की 30 मई तक की छूट दी गई है।

 

सौजन्य से: दैनिक जागरण

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics