कस्टम अमृतसर ने वित्त -वर्ष 2014-2015 में 1010 करोड़ का रेवेन्यू बटोरा

अमृतसर : सीमा शुल्क विभाग ने साल 2014-15 के एक हजार करोड़ रुपए के निर्धारित लक्ष्य को पार करते हुए 1010 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त किया।
विभाग ने नकदी के साथ भारी मात्रा में सोना भी जब्त किया है। अमृतसर के सीमा शुल्क आयुक्त (निवारण) सुनील साहनी ने प्रेस विज्ञप्ति में बताया गया है कि विभाग ने निर्धारित 1000 करोड़ के लक्ष्य को पार कर 1010 करोड रुपये का राजस्व प्राप्त किया है जो कि पिछले वित्त वर्ष में 864.32 करोड़ के मुकाबले 17 फीसदी ज्यादा है।
इसके अतिरिक्त निर्यातकों को साल 2013-14 के 409.54 करोड़ रुपये के मुकाबले साल 2014-15 में 493.71 करोड़ रुपये के नुकसान की छूट दी गई है। जोकि पहले के मुकाबले 21 फीसदी ज्यादा है। साहनी ने बताया कि लुधियाना ड्राईपोर्ट से 757.80 करोड़ रुपये प्राप्त किए गए हैं यहां से हैवी मैटल,अल्‍युमिनियम स्क्रैप, एक्रिलिक स्टैपल और फाइबर का आयात निर्यात किया जाता है। जबकि अटारी के रास्ते ड्राई फ्रूट, सीमेंट और जिप्सम के आयात निर्यात से 121.27 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ है।
अमृतसर के अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से साल 2014-15 में दौरान सोने की तस्करी के 27 मामलों को पकड़ कर छह करोड़ 11 लाख रुपए प्राप्त कर 11 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इसके अतिरिक्त सोना जब्ती के आठ मामले अटारी रेल लैंड कस्टम तथा चार मामले अटारी आईसीपी पर रेल इंटैलिजैंस यूनिट (आरआईयू) ने पकड़े हैं। यह यूनिट जनवरी 2014 में बनाई गई थी।
साहनी ने बताया कि पाकिस्तान से आने वाले रेल डिब्बों से भारी मात्रा में मादक पदार्थों के पकड़े जाने के बाद अटारी पर अंडर कैरैज व्हीकल्स इंस्पेक्शन सिस्टम लगाने का फैसला किया गया जिसके तहत 23 लाख रुपए की लागत से आठ डोर फ्रेम मैटल डिटेक्टर (डीएफएमडी) खरीदे गए हैं। इसके अलावा 1980 से लम्बित पड़ी बकाया राशि की उगाही के लिए अभियान चला कर 399 केसों में 2811 लाख रुपए उगाहे गए हैं।
अटारी रोड पर विभाग की पुरानी जमीन पर कस्टम फोटो गैलरी बनाने के लिए सरकार द्वारा मंजूरी दे दी गई है जिस पर 1433 लाख रुपए खर्च आएंगे। जो अगले दो तीन महीनों तक बन कर तैयार हो जाएगी।
स्रोत : News Portal India

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics