इंदौर के उद्योगपति किशोर वाधवानी 225 करोड़ की टैक्स चोरी के आरोप में मुंबई से गिरफ्तार

डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ जीएसटी इंटेलिजेंस (डीजीजीआई) ने 225 करोड़ रुपये की टैक्स चोरी के आरोप में इंदौर के उद्योगपति किशोर वाधवानी को मुंबई से गिरफ्तार किया है। पान-मसाला और गुटखे की 225 करोड़ रुपये की टैक्स चोरी के मामले में डीआरआई मुंबई ने वाधवानी को गिरफ्तार किया जिसके बाद भोपाल टीम ने मुंबई में उनकी गिरफ्तारी की।

वाधवानी मुंबई के एक पांच सितारा होटल से पकड़े गए। डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्र के मुताबिक केंद्रीय विभाग से जानकारी मिली है कि मुंबई से एक आरोपी को इंदौर लाया जा रहा है। उसे मंगलवार सुबह कोर्ट में पेश किया जाएगा। हालांकि डीआईजी ने आरोपी के नाम की पुष्टि नहीं की है।
यह भी बताया जा रहा है कि विभाग ने वाधवानी की पांच दिन की रिमांड ली है। टैक्स चोरी मामले में पकड़े गए आरोपी विजय नायर से वाधवानी को लेकर मिली जानकारी के बाद विभाग ने उन्हें दो बार समन जारी किया था।

उनकी एएए इंटरप्राइजेस नाम से एक कंपनी है, जो विजय नायर द्वारा संचालित की जाती है। एक अन्य कंपनी विष्णु एसेंस का संचालन अशोक डागा व अमित बोथरा करते हैं। दोनों पान-मसाले और गुटखे का उत्पादन कर नायर को देते हैं।

नायर द्वारा इसे मध्यप्रदेश के साथ महाराष्ट्र, गुजरात, ओडिशा और अन्य पड़ोसी राज्यों में कच्चे में बेचा जाता है। सौ रुपये में से केवल 20 रुपये का कारोबार ही नंबर एक में होता है, बाकी 80 फीसदी कारोबार टैक्स चोरी करते हुए होता है।

नायर ने कबूल किया है कि वह डमी व्यक्ति है और पर्दे के पीछे वाधवानी है जो पूरा धंधा संभालता है। विभाग नायर के बयान को क्रॉस करने और मास्टरमाइंड का पर्दाफाश करने के लिए वाधवानी से पूछताछ करना चाहता है।

सौजन्य से: अमर उजाला

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics