आईजीआई से फिर चोरी हुआ 59 किलो सोना

नई दिल्ली : इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट (आईजीआई) पर कस्टम विभाग के वेयर हाउस स्थित स्ट्रांग रूम से फिर 59 किलो सोना चोरी होने की घटना सामने आई है। तस्करों से बरामद सोने को केस प्रॉपर्टी के रूप में रखा गया था। इससे पहले भी कस्टम के स्ट्रांग रूम से 25 किलो सोना चोरी हो चुका है। ताजा मामले में भी पुराने तरीके से ही चोरी की बात सामने आई है। चोरों ने कुछ पैकेट में सोने की जगह अन्य धातु तो कुछ में डॉलर आदि रख दिए हैं। सभी की सील बरकरार है। पुलिस मुकदमा दर्ज कर जांच में जुट गई है। विभागीय सूत्रों के अनुसार लंबे समय से यह सोना चोरी किया जा रहा था।1वर्ष 2014 में कस्टम के वेयर हाउस से पहली बार सोना चोरी हुआ था। वर्ष 2015 और 2016 में दो और मामले सामने आए थे। इन घटनाओं में करीब 24 किलो सोना चोरी किया गया था, जिसकी कीमत 7 करोड़ रुपये आंकी गई थी। पुलिस इसकी जांच कर ही रही थी कि कस्टम अधिकारियों ने स्ट्रांग रूम से फिर सोना चोरी होने की शिकायत पुलिस में की। ताजा मामले में 59.612 किलो सोना चोरी होने का मुकदमा दर्ज किया गया है। आईजीआई थाना पुलिस ने 18 जुलाई को मुकदमा दर्ज किया। चोरों ने पैकेट में सीलबंद सोने के बिस्कुट को किसी अन्य धातु से बदल दिया है। कुछ पैकेट से घड़ी, डॉलर व यूएई की मुद्रा बरामद हुई है।
कस्टम सूत्रों ने बताया कि एयरपोर्ट पर तस्करों से बरामद सोना व कीमती सामान को केस प्रॉपर्टी के रूप में टर्मिनल-3 स्थित कस्टम के स्ट्रांग रूम में रखा जाता है। वहां 30 वर्ष से करीब 3 हजार सीलबंद पैकेट में 900 किलो सोना रखा हुआ है। जिस स्ट्रांग रूम में सोना रखा गया है वह टर्मिनल बिल्डिंग के अंदर होने के कारण पूरी तरह सुरक्षित है। विभागीय स्तर पर भी सोने की सुरक्षा के लिए पुख्ता प्रबंध हैं। इसकी चाबी कस्टम के वरिष्ठ अधिकारियों के पास होती है। उनकी उपस्थिति में ही स्ट्रांग रूम में कोई प्रवेश कर सकता है। पुलिस को शक है कि कस्टम अधिकारियों की भी इसमें मिलीभगत हो सकती है। एयरपोर्ट सूत्रों की मानें तो लंबे अर्से तक तस्करों से बरामद सोने का निबटारा नहीं किया जाना चोरी की बड़ी वजह है। चोरी की ये घटनाएं गत कई वर्षो में अंजाम दी गई हैं। अन्य का वहां पहुंचना संभव नहीं है। इसलिए सोना गायब करने में एयरपोर्ट पर तैनात विभागीय अधिकारियों की संलिप्तता प्रतीत हो रही है। हालांकि चोरी के बाद पुलिस ने वहां अतिरिक्त सीसीटीवी कैमरे लगवाएं हैं ताकि स्ट्रांग रूम पर पूरी नजर रखी जा सके। आईजीआई जिला पुलिस उपायुक्त दिनेश कुमार गुप्ता ने बताया कि कस्टम के स्ट्रांग रूम से सोना चोरी होने के संबंध में अब तक 4 मुकदमे दर्ज किए गए हैं। कस्टम की ओर से मिली शिकायत में अब तक करीब 84 किलो सोना चोरी होने का पता चला है। इस संबंध में पुलिस की तफ्तीश जारी है। पहली की घटना के बाद पुलिस ने कस्टम कार्यालय में तैनात सभी अधिकारियों का नाम, फोन नंबर और पता आदि की लिस्ट मांगी थी, लेकिन कस्टम की ओर से भेजी गई लिस्ट में पूरी जानकारी नहीं है। इस वजह से जांच बाधित हो रही है। दोबारा से अधिकारियों को तमाम जानकारी जुटाने को कहा है ताकि सोने चोरी के मामले में आरोपियों तक पहुंचा जा सके।
सौजन्य से : जागरण

Leave a Reply

*

You are Visitor Number:- web site traffic statistics