आईजीआई एयरपोर्ट पर महिलाओ के जरिये गोल्ड तस्करी, 10 किलो सोना बरामद

नई दिल्ली : इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट (आइजीआइ) पर कस्टम की चौकसी के चलते हाई प्रोफाइल महिलाओं से सोने की तस्करी कराई जा रही है। सरगना ऐसी महिलाओं से तस्करी करा रहे हैं, जो देखने में संभ्रात परिवार की हों और साथ में बच्चा और नौकरानी भी हो। ताकि कस्टम अधिकारी उन पर शक न करें। कस्टम विभाग ने एयरपोर्ट पर 48 घंटे के दौरान सोने की तस्करी में दो विदेशी व दो भारतीय महिलाओं सहित छह लोगों को गिरफ्तार किया है। उनके पास से 10 किलो 700 ग्राम सोना बरामद किया गया है। इसकी कीमत 2 करोड़ 85 लाख रुपये बताई गई है। भारतीय महिला तस्करों की पहचान निधि कपूर और रिधिका बजाज के रूप में हुई है। उन्होंने विशेष पंट्टी से अपने शरीर में सोने को बांध रखा था।womern
सोने की तस्करी रोकने के लिए कस्टम विभाग ने एयरपोर्ट पर चौकसी बढ़ा दी है। सर्विलांस टीम विदेश से आने वाले यात्रियों पर नजर रखती है। दुबई और खाड़ी देशों से आने वाले यात्रियों पर खासतौर से नजर रखी जाती है। कस्टम सूत्रों के मुताबिक एक जुलाई को दुबई से आई एक फ्लाइट से एक भारतीय समूह उतरा था। इनमें दो महिलाओं के पास 8-7 महीने का एक-एक बच्चा था। उनके साथ घरेलू सहायिकाएं भी थीं। वे ग्रीन चैनल पार कर एयरपोर्ट से बाहर निकलने की जुगत में थीं। शक होने पर कस्टम अधिकारियों ने उनके बैगेज की जांच की, लेकिन कुछ नहीं मिला। तलाशी लेने पर पता चला कि उन्होंने शरीर में विशेष पंट्टी में सोना छुपा रखा है। निधि के पास से 3 किलो 100 ग्राम और रिधिमा बजाज के पास से 2 किलो 600 ग्राम सोने के बिस्कुट बरामद हुए। दो भारतीय तस्करों के पास से कस्टम ने 1 किलो और 700 ग्राम सोना जब्त किया। आरोपियों को गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है। दो जुलाई को कस्टम विभाग ने अजमेनिया और अजरबैजान निवासी दो महिलाओं को भी सोना तस्करी में दबोचा।
सूत्रों के मुताबिक गिरफ्तार भारतीय महिला सोना तस्कर अच्छे घर से हैं। एक के पति का दुबई में गारमेंट का व्यवसाय है तो दूसरे का पति जालंधर में व्यापार करता है। दोनों महिलाएं 3 महीने में दो से तीन बार दुबई से भारत आती थीं। कस्टम अधिकारी यह पता लगाने का प्रयास कर रहे हैं कि क्या दोनों महिलाओं ने पहले भी सोने की तस्करी की है। आम तौर पर परिवार अथवा बच्चों के साथ आने वाले यात्रियों पर तस्करी का शक कम जाता है। मास्टरमाइंड इस मानवीय सोच का फायदा उठा एयरपोर्ट पर सोना तस्करी के लिए हाई प्रोफाइल महिलाओं को शामिल कर रहे हैं।
सरगना देते हैं मोटी रकम का लालच
कस्टम शुल्क बचाने के चक्कर में विदेश से हवाई मार्ग के जरिए सोने की तस्करी हो रही है। ज्यादातर मामलों में सरगना विदेश मे ही बैठे होते हैं। वे मोटी रकम का लालच देकर कैरियर (तस्करी करने वाले शख्स) को सोना देकर भारत भेजते हैं। उन्हें इसे किसे सौंपना है, इसकी जानकारी फोन से दी जाती है।
किस-किस तरह से करते हैं सोने की तस्करी
सुरक्षाकर्मियों की आंख में धूल झोंकने के लिए तस्कर कई तरीके अपनाते हैं। कोई इलेक्ट्रानिक सामान के अंदर तो कोई जूते और अंडरगारमेंट में सोना छुपाकर लाता है। एक तस्कर ने तो बिलकुल ही अलग तरीका अपनाया। उसने टीवी के कार्टून में कई किलो सोने की पिन को स्टेपल किया था। कुछ तस्कर ऑपरेशन करा शरीर के अंदर भी सोना छुपा लेते हैं।

 
स्रोत : दैनिक जागरण

Comments are closed.

You are Visitor Number:- web site traffic statistics